Kanhaiya Kumar camaigning in Begusarai.

सुना था बाल मन को जिस सांचे में ढालो वह ढल जाता है. बात सही भी है. बचपन में हर बच्चा एक एम्पटी कैनवस की तरह होता है जिस पर हम जो रंग भरना चाहे भर सकते हैं. यह बात परीवार और आसपास के पर्यावरण पर मजबूती से निर्भर करता है.

Read more ...

Fellowship is a system to support the young scientists and scholars from different disciplines in higher education. It helps poor and meritorious students to attain higher education without any financial barriers.

Read more ...

कहा जाता है कि सुदृढ़ शिक्षा किसी देश के विकास की पहली कड़ी मानी जाती है. शिक्षा से उस देश और समाज के रहन-सहन, खान-पान, रीती-रिवाज के साथ-साथ वहाँ के लोगों की सांस्कृतिक विचार धारा का भी पता चलता है. इसी लिए दुनिया के लगभग सभी देशों के निर्माण और विकास में शिक्षण संस्थानों का महत्वपूर्ण योगदान रहा है.

Read more ...

अलीगढ़ से हिंदू महासभा का गांधी के तस्वीर पर गोली चलाने का वीडियो पूरे विश्व में जिस तरह से फैल रहा है, जिस प्रकार नाथूराम का भूत लोगों के सर चढ़कर बोल रहा है ऐसे में मुझे डॉक्टर राहत इंदौरी का एक शेर याद आ पड़ता है..

Read more ...

The recent cases of mob lynching in Bihar is not a regional affair anymore. It has turned out to be a concern to the peace and security of the state.

Read more ...

Never in my entire life had I found myself so helpless and incapable as I did on the day my father departed for his heavenly abode. Only a day before, when I reached Kishanganj from Delhi to see my ailing father, I found him lying normally.

Read more ...

बिहार की भूमि रत्नगर्भा रही है। मानव सभ्यता के विकास के अनेक कालखडों के दौरान इस धरती ने अनेक ऐसे नायकों को जन्म दिया जिन्होंने राष्ट्र और विश्व दोनों को प्रभावित किया है।

Read more ...

There is no project yet to harness methane gas from quarries. Presently, Patna Municipal Corporation is letting the gas into the atmosphere that can be used to produce electricity. The state government can produce 2MW of power from quarries that are filled with 750 tonnes of garbage every day and placed in fallow land.

Read more ...

वर्तमान समय भविष्य का निर्धारण करता है इसलिए समसामयिक घटनाओं का सिर्फ मूकदर्शक नहीं बल्कि बदलाव की अलख जगानी चाहिए. एक मानवतामूलक व्यक्ति को कभी इसकी परवाह नहीं करनी चाहिए कि उसके पीछे जमाना है या नहीं बल्कि जमाने की आंखों में आंखें डाल निर्भीक होकर बात करनी चाहिए चाहे गौरी लंकेश का ही उदाहरण क्यों न चरितार्थ हो. हमारा और आपका एक कदम ऐसे लोगों की फौज खड़ा करने का माद्दा रखता है जो सामाजिकता और मानवाधिकार के लिए खड़े हो. पग-पग पर मुश्किलें हैं, खतरा है लेकिन हमारी सोच, हमारे विचार हमारी ताकत है.

Read more ...

Bihari food and beverages are no longer confined within Bihar anymore. Bihari cuisines are well famous and easily available everywhere now-a-days. Whether it is Channa-Ghugni, Litti-Chokha, or Fish Curry prepared with garlic and mustard paste, they are loved by all who have tried them at least once in their life.

Read more ...

Bihar was once considered and portrayed as a fine example of backwardness and was associated with everything that is wrong with the state. However, it has now been showcasing large scale development not only in the agricultural sector but also in the industrial component - inviting large scale investment in the traditionally 'natural resources and manpower rich' Bihar.

Read more ...

View Your Patna

/30

Latest Comments

Guest Columns, Features, Lifestyle, Blog